“N” अक्षर, 14 of 26

“जिन जातकों का नाम ‘एन’ अक्षर से प्रारम्भ होता है वह सुलझे हुए अपने कत्र्तव्यों का पालन करने वाले जिम्मेदार लोग होते हैं लेकिन इन्हें जीवन यापन करने के लिए भयंकर संघर्ष करना पड़ता है। कार्यों में विघ्न इनके भीतर प्रबल साहस को जन्म देता है जिसके कारण यह बिना रूके अपने लक्ष्य के प्रति लगातार अग्रसर रहते हैं।

बेहद ही स्वतंत्र विचारों वाले और मनमौजी होते है एन अक्षर वाले| एन अक्षर वाले व्यक्तियों को दिखावे पर बहुत यकीन होता है। ये कब क्या करेगें इन्हें खुद भी पता नहीं होता है।

अद्भुत प्रतिभाशाली अपने धुन के पक्के होते हैं तथा दोस्त बनाने और दोस्ती निभाने में सबसे आगे होते हैं। ऐसे लोग नि:स्वार्थ भाव से सेवा करते हैं तथा शुद्ध एवं सरल जीवन जीना पसंद करते हैं।

इनका किसी से कोई लेना-देना नहीं होता है| अपनी ही धुन और दुनिया में मस्त रहने वाले होते हैं ये लोग| कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि मस्तमौला होते हैं एन अक्षर वाले| एन अक्षर वाले बिना मेहनत के हर चीज पाने की कामना रखते है|

ऐसे व्यक्ति वैसे तो ऊपरी तौर पर शांत दिखायी देते है लेकिन अंदर ही अंदर ये बेहद ही आक्रमक होते है। इनको अपनी आलोचना बर्दाश्त नहीं होती है।

ये जरूरत से ज्यादा मुंहफट,स्वार्थी,और घमंडी होते हैं| एन अक्षर वाले अपना काम निकालने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं| ऐसे व्यक्तियों के लिए प्रेम एक हिसाब किताब की तरह होता है|

ये वहीं रिश्ता जोड़ते है जहां इनका फायदा होता है। सेक्स लाईफ भी इनके लिए काफी मायने रखती है| ये आकर्षक रूप-रंग के मालिक होते हैं। जिसका फायदा ये समय-समय पर उठाते रहते है। मै तो यही कहूँगा कि इन लोगों से दूरी बनाकर ही रखिए|
ऐसे जातकों के जीवन में कोई भी काम आसानी से संपन्न नहीं होता। ये अनजान से अनजान व्यक्ति को फौरन मित्र बना लेते हैं। एक बार मित्र बना लेने के बाद प्रयास करते हैं कि उनकी मित्रता जीवन पर्यंत निभ जाय। इनका जीवन व्यस्त होता है और इनका व्यस्त जीवन कई बार परेशानी का कारण बन जाता है। विघ्न—बाधाओं को झेलने में ये बड़े माहिर होते हैं। दर्द सहते हैं पर मुंह से उफ तक नहीं निकालते। ऐसे जातक अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए एड़ी से चोटी का जोर लगा देते हैं।”

%d bloggers like this: