“A” अक्षर, 1 of 26

“जिनका नाम ‘ए’ अक्षर से शुरू होता है वह लोग आत्मविश्वासी मेहनती, दयावान, अच्छे विचारों वाले तथा भावना प्रधान होते हैं। उनका भावुक स्वभाव ही इनके उत्थान और पतन का कारण बनता है।

इनके इसी स्वभाव के कारण लोग इनका फायदा उठाते हैं। आप सदा दूसरों की भलाई के लिए तत्पर रहेंगे। आपको जीवन में मान सम्मान अवश्य मिलेगा।

ऐसे व्यक्ति श्रेष्ठ विचारक तथा सद्गुण—सम्पन्न होते हैं। चंचल—प्रकृति होने के साथ—साथ दूसरों के दुख—दर्द में भागीदार होते हैं। ऐसे व्यक्ति समाज को प्रेममय, मधुर तथा सुन्दर बनाने का प्रयत्न करते रहते हैं।

यह इनमें अनेक सद्गुण छिपे होते हैं। यह तेजस्वी व यशस्वी होते हैं। ऐसे लोगों में तीव्रता के साथ आगे बढ़ने की रहस्यमयी शक्ति होती है।

इनमें किसी भी परिस्थि‍ति के अनुसार खुद को ढालने की गजब की क्षमता होती है और इनकी पसंद भीड़ से जरा अलग हटकर होती है।

शि‍क्षा या करियर के मामले में यह लक्ष्य तक पहुंचने से पहले हार मानने वालों में से नहीं हैं, और किसी भी काम को अंत तक पहुंचाने के लिए यह हर संभव प्रयास करते हैं।

इनकी एक खासियत होती है ये अपनी बात सबसे नहीं कहते हैं।

ये समाज में कुछ बड़ा पद प्राप्त करने के लिए लालायित रहते हैं और कुछ ऐसा काम करना चाहते हैं, जो अब तक किसी ने नहीं किया हो।

ये मौके की नजाकत को समझने वाले और हालात के हिसाब से फैसले लेने के कारण ये हर दिल अजीज होते हैं। लेकिन इनमे एक दोष होता है ये क्रोधी स्वभाव के होते हैं।

इनका विकास अपने जन्मस्थान से हटकर होता है। यह जीवन के किसी भी क्षेत्र में प्रथम पंक्ति में रहना पसंद करते हैं। ऐसे जातक अपना भविष्य, अपना भाग्य एवं अपना घर खुद ही बनाते हैं।

जीवन संघर्ष से भरा होता है लेकिन ये मंजिल को पा ही लेते हैं। ये धोखेबाज बिलकुल नहीं होते है और ना ही ये धोखेबाजी को पसंद करते हैं।

इनके परिजनों का सहयोग इन्हें कम ही मिलता है पर ये दूसरे लोगों को अपने आश्रय में आने का पूर्ण अवसर देते हैं।”

%d bloggers like this: