News

मुख्य समाचारः –

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह पश्चिमी माल गलियारे के 306 किलोमीटर लम्बे न्यू रेवाड़ी – न्यू मदार खंड का उद्घाटन करेंगे।

भारत और फ्रांस आज नई दिल्ली में वार्षिक कार्यनीतिक वार्ता करेंगे।

केंद्र सरकार ने लद्दाख के विकास और भाषा तथा संस्कृति की रक्षा के लिए गृहराज्य मंत्री जी. किशन रेड्डी की अध्यक्षता में एक समिति गठित करने का फैसला किया।

राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड की स्थायी समिति ने देश में मानव-वन्यजीव संघर्ष के प्रबंधन के लिए परामर्श को मंजूरी दी।

भारत ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अफ्रीकी देशों का पर्याप्त प्रतिनिधित्व न होने के मुद्दे पर विचार करने को कहा है।

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के समर्थकों के कैपिटल बिल्डिंग पर धावा बोलने के बाद वाशिंगटन में कर्फ्यू लगाया गया।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सिडनी में तीसरे क्रिकेट टेस्ट मैच का खेल वर्षा के कारण स्थगित।

—–

कोविड महामारी के खिलाफ देश एकजुट होकर लड़ रहा है। आप भी हमारे साथ सुरक्षा और बचाव के तीन आसान एहतियाती उपायों का संकल्‍प लें।

मास्‍क पहनें

दो गज दूरी, है जरूरी।

सुरक्षित दूरी बनाए रखें।

हाथ और मुंह साफ रखें।

—–

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी आज पश्चिमी माल गलियारे के 306 किलोमीटर लंबे न्‍यू मदार – न्‍यू रेवाड़ी खंड का शुभारंभ करेंगे। वे न्यू अटेली से न्यू किशनगढ़ के लिए डबल स्टैक, डेढ़ किलोमीटर लंबी कंटेनर रेलगाड़ी को झंडी दिखाकर रवाना भी करेंगे। इस अवसर पर राजस्‍थान और हरियाणा के राज्‍यपाल और मुख्‍यमंत्री तथा रेलमंत्री पीयूष गोयल भी उपस्थित रहेंगे।

पश्चिमी विशेष मालवाहक गलियारे का न्‍यू रेवाड़ी – न्‍यू मदार खण्‍ड हरियाणा और राजस्‍थान में आता है। इसमें 9 नव निर्मित मालवाहक गलियारा स्‍टेशन हैं जिनमें 3 जंक्‍शन स्‍टेशन न्‍यू रेवाड़ी, न्‍यू अटेली और न्‍यू फूलेरा हैं। इस नए मालवाहक गलियारे पर रेलगाडियों की आवाजाही शुरू हो जाने से राजस्‍थान और हरियाणा के रेवाडी-मानेसर, नारनौल, फूलेरा और राजस्‍थान के किशनगढ़ में मौजूद विभिन्‍न औद्योगिक इकाइयों को काफी फायदा होगा। इससे काठूवास में स्‍थ‍ित कॉनकोर के कन्‍टेनर डिपो का भी बेहतर इस्‍तेमाल हो सकेगा। इस गलियारे से गुजरात में स्थित कान्‍डला, पीपावाव, मुंद्रा तथा दाहेज बंदरगाहों से सामान की ढुलाई भी आसान हो जाएगी। इस रेल खंड के शुरू हो जाने से देश का पश्‍चिमी और पूर्वी माल परिवहन गलियारे एक दूसरे से जुड जाएंगे। समाचार कक्ष से विजयलक्ष्मी कासोटिया।

पिछले महीने की 29 तारीख को इस रेलखंड को देश को समर्पित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा था कि अब इन गलियारों पर मालगाड़ियों की गति और तेज हो जाएगी।

मालगाड़ियों के लिए बनी इस प्रकार की विशेष सुविधाओं से एक तो भारत में यात्री ट्रेन की लेट-लतीफी समस्या कम होगी। दूसरा ये कि इससे माल गाड़ी की स्पीड भी तीन गुणा से ज्यादा हो जाएगी और मालगाड़ियां पहले से दोगुणा तक सामान की ढुलाई कर पाएगी। मालगाड़ियां जब समय पर पहुंचेगी तो हमारा लॉजिस्टिक नेटवर्क सस्ता होता जाएगा, जिसका हमारे निर्यात को लाभ होगा। यही नहीं देश में उद्योग के लिए बेहतर माहौल बनेगा। इज ऑफ डूईंग बिजनेस बढ़ेगी। निवेश के लिए भारत और आकर्षक बनेगा। देश में रोजगार के स्वरोजगार के अनेक नए अवसर भी तैयार होंगे।

—–

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कल जर्मनी की चांसलर एंगेला मर्केल के साथ वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से वैचारिक विमर्श किया। प्रधानमंत्री ने यूरोपीय और वैश्विक मंच पर स्थिर और मजबूत नेतृत्व प्रदान करने के लिए चांसलर मैर्केल की लंबे समय से चली आ रही भूमिका की सराहना की। प्रधानमंत्री ने भारत-जर्मनी कूटनीतिक साझेदारी के विकास के लिए भी उन्हें धन्यवाद दिया।

दोनों नेताओं ने कोविड-19 महामारी, द्विपक्षीय संबंधों, क्षेत्रीय और वैश्विक विषयों तथा विशेष रूप से भारत-यूरोपीय संघ संबंधों सहित पारस्परिक महत्व के प्रमुख विषयों पर चर्चा की।

प्रधानमंत्री ने भारत में कोविड का टीका विकसित करने के संबंध में चांसलर मर्केल को जानकारी दी। उन्होंने चांसलर मर्केल से कहा कि विश्व के लाभ के लिए भारत अपनी क्षमताओं का लाभ देने के लिए प्रतिबद्ध है।

प्रधानमंत्री मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन, में शामिल होने के जर्मनी के निर्णय का स्वागत किया। उन्होंने आपदा रोधी मूल संरचना-सीडीआरआई के लिए गठबंधन के अंतर्गत जर्मनी के साथ सहयोग को और मजबूत करने की इच्छा व्यक्त की।

इस वर्ष भारत और जर्मनी के बीच द्विपक्षीय संबंधों की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ और सामरिक भागीदारी की 20वीं वर्षगांठ है। दोनों नेताओं ने इस अवसर पर इसी वर्ष छठा अंतर-सरकारी परामर्श आयोजित करने और एक महत्वाकांक्षी एजेंडा निर्धारित करने पर भी सहमति व्यक्त, की।

—–

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने भारत और जापान के बीच सहयोग के समझौते पर हस्‍ताक्षर को मंजूरी दी है। यह समझौता विशिष्‍ट कुशल कामगारों से संबंधित समुचित संचालन प्रणाली के लिए भागीदारी की बुनियादी रूपरेखा तैयार करने के लिए किया गया है। इससे जापान में 14 निर्धारित क्षेत्रों में काम करने के लिए अपेक्षित कौशल और जापानी भाषा की परीक्षा में उतीर्ण भारतीय कामगारों को भेजने और स्‍वीकार करने के बारे में सहयोग के तौर-तरीके तैयार किये जा सकेंगे। जापान सरकार भारत के इन कुशल कामगारों को विशिष्‍ट कुशल कामगार के रूप में निवासी का दर्जा प्रदान करेगी।

—–

भारत और फ्रांस के बीच आज नई दिल्ली में वार्षिक कार्यनीतिक वार्ता होगी। भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल करेंगे, जबकि फ्रांस के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व वहां के राष्ट्रपति के राजनयिक सलाहकार इमैनुएल बोन्ने करेंगे।

विदेश मंत्रालय के वक्‍तव्‍य में कहा गया है कि दोनों देश द्विपक्षीय और वैश्विक मुद्दों पर व्यापक चर्चा करेंगे। इमैनुएल बोन्ने भारत के अन्य विशिष्ट लोगों से भी मुलाकात करेंगे। कार्यनीतिक वार्ता का पिछला दौर फरवरी में पेरिस में आयोजित किया गया था।

—–

केन्‍द्रीय सामाजिक न्‍याय और अधिकारिता राज्‍य मंत्री रामदास आठवले ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के नेतृत्‍व में एन.डी.ए. सरकार ने अगले पांच वर्षों के लिए अनुसूचित जात‍ि के विद्यार्थियों को पोस्‍ट मैट्रिक छात्रवृत्ति के लिए 69 हजार करोड रूपये आवंटित किए हैं। अहमदाबाद में कल संवाददाता सम्‍मेलन में उन्‍होंने कहा कि अगले पांच वर्षों में इस योजना के अंतर्गत उच्‍च शिक्षा और कौशल प्रशिक्षण के लिए अनुसूचित जात‍ि के एक करोड़ तीस लाख विद्यार्थी नामांकित किए जाएंगे। श्री आठवले ने कहा कि मोदी सरकार प्रतिवर्ष अनुसूचित जाति के उन सौ विद्यार्थियों को विदेशों में शिक्षा के लिए छात्रवृत्ति देने की योजना बना रही है जिनके परिवार की वार्षिक आय 8 लाख रूपये से कम है। उन्‍होंने कहा कि मोदी सरकार सुगम्‍य भारत अभियान के अंतर्गत दो करोड़ 67 लाख दिव्‍यांगजनों के लिए कई योजनाएं भी चला रही है। इनमें से 32 लाख दिव्‍यांगजन गुजरात के हैं।

—–
गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि सरकार लद्दाख के विकास और लद्दाख की भूमि, संस्कृति के संरक्षण के लिए प्रतिबद्ध है। कल नई दिल्ली में लद्दाख के दस सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने श्री अमित शाह से मुलाकात की। सभी प्रतिनिधियों ने लद्दाख की कठिन भौगोलिक परिस्थितियों और सामरिक महत्व को देखते हुए भाषा, संस्कृति और भूमि के संरक्षण, लद्दाख के लोगों की भागीदारी और रोजगार की सुरक्षा तथा जनसांख्यिकी में बदलाव के संबंध में अपनी चिंता व्यक्त की।

गृह मंत्री ने कहा कि लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा देकर प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में सरकार ने लद्दाख के लोगों की लंबे समय से लंबित मांगों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को पूरा किया है।

बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया कि लद्दाख की भाषा, संस्कृति और भूमि के संरक्षण से संबंधित मुद्दों का उचित समाधान तलाशने के लिए गृह राज्यमंत्री जी. किशन रेड्डी के नेतृत्व में एक समिति का गठन किया जाएगा। समिति में प्रतिनिधिमंडल के वे सदस्य शामिल होंगे जो कल गृह मंत्री से मिले थे, इसके अलावा, लद्दाख स्‍वायत्‍त पर्वतीय विकास परिषद के सदस्‍य और भारत सरकार तथा लद्दाख प्रशासन के प्रति‍निधत्‍व करने वाले पदेन सदस्‍य भी इस समिति में शामिल होंगे।

—–
वित्तमंत्री निर्मला सीतारामन ने कल नई दिल्ली में नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर पाइपलाइन-एनआईपी के कार्यान्वयन की प्रगति की समीक्षा की। बैठक का उददेश्‍य एन आई पी परियोजना की प्रगति, अब तक हुए खर्च और परियोजना कार्यान्वयन में तेजी लाने के लिए उठाए जा रहे कदमों पर चर्चा की गई। एनआईपी परियोजना के काम की निगरानी और तेजी लाने के लिए वित्त मंत्री की विभिन्न मंत्रालयों और विभागों के साथ यह दूसरी समीक्षा बैठक थी।

श्रीमती सीतारामन ने कहा कि एनआईपी का उद़देश्‍य नागरिकों को विश्वस्तरीय बुनियादी सुविधा प्रदान करने के लिए सरकार की पहल का एक हिस्सा है। उन्होंने जल संसाधन विभाग और स्वास्थ्य मंत्रालय को निर्देश दिया कि सभी एनआईपी परियोजनाओं को प्रभावी ढंग से समय पर लागू करें तथा राज्य सरकारों और अन्य मंत्रालयों के साथ अनसुलझे मुद्दों का त्वरित समाधान सुनिश्चित करें।

—–

दूरसंचार विभाग ने कल 700 मेगाहर्ट्ज, 800 मेगाहर्ट्ज, 900 मेगाहर्ट्ज, एक हजार 800 मेगाहर्ट्ज, दो हजार एक सौ मेगाहर्ट्ज, दो हजार तीन सौ मेगाहर्ट्ज और दो हजार 500 मेगाहर्ट्ज बैंड में स्पेक्ट्रम की नीलामी के लिए आवेदन, आमंत्रित करते हुए नोटिस जारी किया। नीलामी में भाग लेने के लिए आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि अगले महीने की 5 तारीख है। संचार मंत्रालय ने कहा है कि नीलामी इस वर्ष पहली मार्च से ऑनलाइन शुरू जाएगी। नीलामी वाले स्पेक्ट्रम की वैधता 20 वर्ष होगी।

—–
रक्षा राज्‍यमंत्री श्रीपद येसो नाइक कल नई दिल्‍ली में आयोजित एक समारोह में कल सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुन्‍द नरवणे को एक लाखवां बुलेट प्रूफ जॉकेट प्रदान किया। इस अवसर पर श्री नाइक ने कहा कि सरकार अपने सैनिकों के बहुमूल्‍य जीवन की रक्षा करने के लिए प्रत‍िबद्ध है। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की सरकार सैनिकों की सुरक्षा को उच्‍च प्राथमिकता देती है। श्री नाइक ने आश्वासन दिया कि सरकार सभी सैनिकों को बेहतर हथियार और सुरक्षा उपकरण प्रदान करेगी और ऐसी आवश्यकताएं हमारी सरकार की प्राथमिकता में सबसे ऊपर रहेंगी।

—–
राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड की स्थायी समिति ने देश में मानव-वन्यजीव संघर्ष के प्रबंधन के लिए परामर्श को मंजूरी दे दी है। इसमें राज्यों और केंद्र-शासित प्रदेशों के लिए ऐसे विशेष उपाय सुझाए गए हैं, जिनसे मानव और वन्यजीवों के बीच संघर्ष की घटनाएं कम होंगी और विभागों के बीच समन्‍वय तथा प्रभावी कार्रवाई में तेजी आएगी।

परामर्श में वन्‍यजीव सुरक्षा अधिनियम, 1972 के अनुसार, संकटग्रस्त वन्‍य जीवों से निपटने में ग्राम पंचायतों को मजबूत बनाने की परिकल्पना की गई है। मानव और वन्यजीव संघर्ष के कारण फसलों के नुकसान के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत क्षतिपूर्ति और वन्य क्षेत्रों के भीतर चारे और पानी के स्रोतों को बढ़ाना कुछ महत्वपूर्ण कदम हैं। इसमें यह सुझाव दिया गया है कि संघर्ष की स्थिति में पीड़ित परिवार को अंतरिम राहत के रूप में अनुग्रह राशि के एक हिस्से का भुगतान किया जाये। बैठक के दौरान कुछ और निर्णय लिए गए, जिनमें उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले के कुछ गांवों में पानी की आपूर्ति और सिंचाई सुविधाएं बढ़ाने के लिए पुल और नहर का निर्माण और ठाणे जिले में नवी मुंबई के वाशी इलाके में एकीकृत बस टर्मिनल और वाणिज्यिक परिसर का निर्माण शामिल है। राष्ट्रीय वन्यजीव बोर्ड का गठन केंद्र सरकार द्वारा वन्यजीव (संरक्षण) अधिनियम, 1972 की धारा 5-ए के तहत किया गया है।

—–
भारत ने कहा है कि संयुक्‍त राष्‍ट्र में स्‍थाई सदस्‍य के रूप में अफ्रीका के किसी देश का प्रतिनिधित्‍व ना होने के मुद्दे पर संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद में विचार किया जाना चाहिए। विदेश सचिव हर्षवर्धन शृंगला ने कहा है कि हालांकि, सुरक्षा परिषद के आधे से अधिक मुद्दे अफ्रीका से संबंधित होते हैं लेकिन अफ्रीका महाद्वीप का कोई भी स्‍थाई सदस्‍य नहीं है जिसके कारण उसके हितों के बारे में कोई आवाज नहीं उठा सकता। उन्‍होंने बताया कि विश्‍व की इस सबसे बड़ी संस्‍था को यह ऐहतिहासिक विसंगति दूर करने की आवश्‍यकता है। श्री सिंगला कल रात संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा में संवेदनशील मुद्दों पर शांति और सुरक्षा बनाए रखने की चुनौतियां विषय पर खुली बहस में बोल रहे थे।

—–
अमरीका के राष्‍ट्रपति डॉनल्‍ड ट्रंप के समर्थकों ने कल रात कैपि‍टल ब‍िल्ंडिग पर धावा बोल दिया। उसके बाद वाशिंगटन डीसी में कर्फ्यू लगा दिया गया है। उस समय अमरीकी संसद में नव-निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन को चुनाव में विजेता प्रमाणित करने पर बहस हो रही थी। प्रदर्शनकारियों ने कैपिटल बिल्डिंग में घुसने की कोशिश की। ट्रम्प ने अपने समर्थकों से हिंसा छोड़ कर घर जाने का आग्रह किया, लेकिन वे अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में धांधली की बात बार-बार दोहराते रहे।

इससे पहले, डेमोक्रेट ने जॉर्जिया में सीनेट की दो सीटें जीत लीं जिसके बाद सीनेट में उनका बहुमत हो गया। डेमोक्रेट राफेल वार्नॉक और जॉन ओसॉफ ने रिपब्लिकन को हराकर सीनेट की सीटें जीतीं।

—–
पशुपालन और डेयरी विभाग ने कहा है कि अब तक बर्ड फ्लू के मामले राजस्‍थान, मध्‍य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और केरल में देखे गए हैं। राजस्‍थान और मध्‍य प्रदेश में कौओं की इस संक्रमण से मौत हुई है जबकि हिमाचल प्रदेश में प्रवासी पक्षी और केरल में बत्‍तखें इसका शिकार बनीं।

पशुपालन विभाग के सचिव अतुल चतुर्वेदी ने आकाशवाणी से विशेष बातचीत में कहा कि इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि स्‍वस्‍थ मुर्गियों के मांस और अण्‍डों के इस्‍तेमाल से मनुष्‍यों में बर्ड फ्लू का खतरा है।

मनुष्य में इस बीमारी फैलने की आज की तारीख में कोई भी रिपोर्ट नहीं है और मनुष्य में यह बीमारी फैलने की बहुत ही कम संभावना है जो कि खाली उन मनुष्यों में फैल सकती है जो कि डायरेक्टली इन बर्डस को जाकर हैंडल करेंगे। उसके अलावा इस तरह से भयभीत होने का कोई कारण नहीं है। जो लोग इंफेक्टिड एरिया के आसपास रहते हैं वो ये सावधानी बरतें कि अपने घर के आसपास अगर कोई फार्म वगैरह है पोलेट्री की या डक्स की अगर उसमें अनयुजवल डेथ जानकारी मिलती है तो फौरन वहां के जो अधिकारी हैं वेटनरी डिपार्टमेंट के उनको रिपोर्ट करें, जिससे कि उसकी टेस्ट और सैंपल लिए जा सके और कंर्फमेशन अगर जरूरत है या उसके आसपास जो सावधानियां बरतनी है उसको लिया जा सके।

पशुपालन और डेयरी विभाग में एक नियंत्रण कक्ष बनाया गया है जो देश में बर्ड फ्लू की स्थिति पर निगाह रखेगा। विभाग के सचिव ने कहा कि प्रभावित जिलों में मुर्गी पालन फार्मों को विसंक्रमित करने और मृत पक्षियों को जमीन में ढ़कने के प्रबंधन किए जा रहे हैं। सचिव ने बताया कि अब तक देश में इस फ्लू का किसी मनुष्‍य पर असर नहीं हुआ है।

—–
मध्‍य प्रदेश सरकार ने केरल और कुछ अन्‍य दक्षिणी राज्‍यों से पोलट्री की आपूर्ति पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। हमारी संवाददाता ने बताया है कि बर्ड फ्लू वायरस के फैलने पर निगरानी के लिए प्रत्‍येक जिले में नियंत्रण कक्ष बनाए गए हैं।

एच 5 एन 8 वायरस अब तक सिर्फ कौवे में पाया गया है। राज्य में अब तक मुर्गियों में अप्रकृतिक मृत्यु की सूचना नहीं है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिया है कि मुर्गियों में बर्ड फ्लू की रोकथाम के लिए भी प्रयास हरसंभव होने चाहिए, भले ही ऐसा कोई लक्षण मुर्गियों में न पाया गया हो। प्रदेश में आवश्यक एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं। पशुपालन विभाग और संबद्ध विभाग सतर्क हैं। बर्ड फ्लू की दैनिक स्थिति से भारत सरकार को अवगत कराया जा रहा है। जिला प्रशासन जिलों में जलाशयों, पोल्ट्री फार्मों और पोल्ट्री बाजारों की बारीकी से निगरानी कर रहा है। पोल्ट्री किसानों और व्यापारियों को बर्ड फ्लू की रोकथाम के बारे में आवश्यक जानकारी दी जा रही है। कौवे या मुर्गियों की बीमारी या अप्राकृतिक मृत्यु के बारे में सूचना पर, तत्काल नमूने एकत्र किए जा रहे हैं। संक्रमित स्थानों को सेनिटाइज किया जा रहा है। पूजा पी. वर्धन आकाशवाणी समाचार, भोपाल।

—–
कुछ राज्‍यों में बर्ड फ्लू फैलने के बाद आन्‍ध्र प्रदेश सरकार ने अलर्ट जारी करते हुए पशुपालन अधिकारियों से कहा है कि वे प्रवासी पक्षियों और पोल्‍ट्री पर निगरानी रखें, ताकि उनमें बीमारी के लक्षणों का पता लगाया जा सके। वन अधिकारी सभी पक्षी अभ्‍यारण्‍यों में प्रवासी पक्षियों पर कडी नजर रखे हुए हैं। आंध्रप्रदेश में कोलेरू, कोरिंगा, तेलिनीलापुरम, तेलीकुंची, नेलापट्टू, पुलिकट्ट, उपलापडू तथा अन्‍य स्‍थानों के पक्षी अभ्‍यारण्‍यों पर कडी नजर रखी जा रही है। राज्‍य सरकार स्थिति की निगरानी कर रही है। पशुपालन विभाग के निदेशक डॉक्‍टर अमरेन्‍द्र कुमार ने स्‍पष्‍ट किया है कि आंध्रप्रदेश में बर्ड फ्लू नहीं है और लोगों को चिंता करने की आवश्‍यकता नहीं है।

—–
सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कल कोविड वैक्सीन का एक देशव्यापी पूर्वाभ्यास किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि इस अभियान से सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के प्रत्येक जिले में वैक्सीन के वितरण के लिए कुशल योजना और प्रबंधन सुनिश्चित किया जा सकेगा।

मंत्रालय के अनुसार केंद्र सरकार देश भर में कोविड वैक्सीन के वितरण के लिए जोर शोर से काम कर रही है। हाल ही में भारत के औषधि महानियंत्रक ने दो कोविड टीकों को आपात उपयोग की अनुमति दी है। संपूर्ण टीकाकरण प्रक्रिया को सुविधाजनक बनाने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा वैक्सीन के भंडार की वास्तविक जानकारी, उनके भंडारण के तापमान और कोविड वैक्सीन के लिए लाभार्थियों के व्यक्तिगत आकलन के लिए एक सॉफ्टवेयर-कोविन विकसित किया गया है। यह सॉफ्टवेयर टीकाकरण सत्रों के संचालन में सभी स्तरों पर कार्यक्रम प्रबंधकों की सहायता करेगा। उपयोगकर्ताओं के तकनीकी प्रश्नों के लिए चौबीसों घंटे काम करने वाला एक कॉल सेंटर भी बनाया गया है। कोविड टीकाकरण अभियान शुरू करने के लिए सिरिंज और अन्य सामान की पर्याप्त आपूर्ति के साथ शीत भंडारण की बुनियादी व्यवस्था भी सुनिश्चित की गई है।

—–
उत्‍तर प्रदेश में कोविड टीकाकरण का अंतिम पूर्वाभ्‍यास इस महीने की 11 तारीख को किया जाएगा। इससे पहले पांच जनवरी को कोविड टीके का सफल ट्रायल किया गया था। हमारे संवाददाता ने बताया है कि अंतिम पूर्वाभ्‍यास में टीकाकरण अभियान के बारे में राज्‍य सरकार की तैयारियों का जायजा लिया जाएगा।

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि यह अभियान प्रदेश में 1500 स्थानों पर चलाया जाएगा इसका मतलब है कि हर जिले में लगभग 20 केंद्र कोविड वैक्सीनेशन के ड्राई रन के अंतिम दौर के लिए चुने गए हैं। उन्होंने कहा कि पहले चरण में वैक्सीन स्वास्थ्य कर्मियों को लगाई जाएगी। इस बीच, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी अधिकारियों से कोविड टीकाकरण को लेकर सभी तैयारियों को समयबद्ध तरीके से पूरा करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि पहले चरण के ड्राई रन के टारगेट ग्रुप का डाटा तैयार कर लिया गया है और अब दूसरे चरण के टारगेट ग्रुप का डाटा प्राथमिकता के आधार पर तैयार किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोविड टीकाकरण केंद्र सरकार के दिशानिर्देशों के मुताबिक ही किया जाएगा। सुशीलचंद्र तिवारी, आकाशवाणी समाचार, लखनऊ।

—–
बिहार में कोविड संक्रमण से अब तक दो लाख 49 हजार 520 मरीज स्‍वस्‍थ हो चुके हैं। कोविड के उपचाराधीन मरीजों की संख्‍या में लगातार कमी आ रही है। इस समय चार हजार 156 मरीजों का विभिन्‍न अस्‍पतालों में इलाज चल रहा है। पिछले 24 घंटे में 424 मरीज स्‍वस्‍थ हुए जबकि 408 लोगों में कोविड संक्रमण की पुष्टि हुई। राज्‍य में कल 95 हजार कोरोना जांच की गई। अब तक एक करोड़ 88 लाख से अधिक लोगों की कोरोना जांच की जा चुकी है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि केन्‍द्र के निर्देशों के अनुसार कोविड-19 वैक्‍सीन का एक और पूर्वाभ्‍यास बिहार के सभी जिलों में कल किया जाएगा। पटना, जमुई और पश्चिम चम्‍पारण जिलों के विभिन्‍न स्‍थानों पर पहला पूर्वाभ्‍यास 2 जनवरी को किया गया था।

—–
गुजरात में कोविड का संक्रमण निरंतर कम हो रहा है। राज्‍य में कुल 50 हजार कोविड बिस्‍तरों में से 90 प्रतिशत खाली हैं। राज्‍य की प्रमुख स्‍वास्‍थ्‍य सचिव डॉक्‍टर जयंती रवि ने कहा है कि कोविड से स्‍वस्‍थ होने की दर 94 दशमलव आठ-दो प्रतिशत हो गई है। ब्‍यौरा हमारे संवाददाता से …..

गुजरात में पिछले 24 घंटो में संक्रमण के 865 नए मामले सामने आये। राज्य में अब तक 2 लाख 49 हजार 246 मामले सामने आ चुके हैं, जिसमें से 2 लाख 36 हजार 323 मरीज ठीक हो चुके हैं। कल 897 मरीजों के ठीक होने के साथ अस्पतालों से छुट्टी दी गई। राज्य में अब तक 99 लाख 55 हजार से अधिक लोगो का कोविड 19 के लिए परीक्षण किया जा चुका है। संक्रमण के सबसे अधिक 139 नए मामले कल अहमदाबाद में दर्ज हुए, जब की सूरत में 124 मामले सामने आये। राज्य में इस वक्त 8 हजार 594 सक्रिय मामले है, जिसमें से 60 मरीजों को वेंटीलेटर पर रखा गया है। योगेश पंड्या, आकाशवाणी समाचार, अहमदाबाद।

—–
ओडि़सा सरकार ने सभी जिला अधिकारियों और निगम आयुक्‍तों से कोविड टीकाकरण के लिए स्‍थानों की पहचान करने को कहा है। उन्‍होंने तीन लाख 28 हजार स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों को वैक्‍सीन देने के लिए टीकाकरण, निगरानी और रखरखाव स्‍थल के बारे में जानकारी मांगी है।

—–
आंध्र प्रदेश में अब तक एक करोड़ 21 लाख पांच हजार 121 लोगों की रिकॉर्ड कोरोना जांच की जा चुकी है। पिछले 24 घंटे में 289 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। राज्‍य में कोविड से स्‍वस्‍थ होने की दर 98 दशमलव आठ-छह प्रतिशत हो गई है। कल, 428 मरीज कोरोना से स्‍वस्‍थ हुए और उन्‍हें विभिन्‍न अस्‍पतालों से छुट्टी दे दी गई।

—–
असम में कोविड टीकाकरण का पूर्वाभ्यास कल से पूरे राज्य में किया जायेगा। स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि शुरू में कामरूप मेट्रो, नलबाड़ी और शोणितपुर जिलों में टीकाकरण का पूर्वाभ्यास किया जायेगा। उसके बाद राज्‍य के सभी 33 जिले शामिल किए जायेंगे।

हमारे संवाददाता ने बताया है कि प्रत्येक जिले में 3 स्वास्थ्य संस्थानों में यह पूर्वाभ्यास चलाया जायेगा, इसके लिए प्रत्‍येक केंद्र पर कुल 25 लाभार्थियों को आमंत्रित किया जाएगा। इसके लिए कल से 12 हजार नर्सों तथा स्वास्थ्यकर्मियों को तीन दिन का प्रशिक्षण दिया जाएगा। स्वास्थ्य कार्यकर्ता, आशा और आंगनवाड़ी सहित अब तक एक लाख पिचहत्‍तर हजार अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं ने कोविड टीकाकरण अभ्‍यास के लिए अपना पंजीकरण कराया है।

—–
न्‍यायमूर्ति हिमा कोहली को आज तेलंगाना उच्‍च न्‍यायालय के मुख्‍य न्‍यायाधीश के रूप में शपथ दिलाई जाएगी। राज्‍यपाल डॉक्‍टर तमिलेसाई सुंदरराजन हैदराबाद में राजभवन के लॉन में एक समारोह में पद की शपथ दिलाएंगे। न्‍यायामूर्ति हिमा कोहली, दिल्‍ली उच्‍च न्‍यायालय में न्‍यायाधीश थी। वे तेलंगाना उच्‍च न्‍यायालय में पहली महिला मुख्‍य न्‍यायाधीश हैं।

तेलंगाना उच्‍च न्‍यायालय के वर्तमान मुख्‍य न्‍यायधीश आर.एस. चौहान को झारखण्‍ड उच्‍च न्‍यायालय का मुख्‍य न्‍यायाधीश नियुक्‍त किया गया है।

—–
सिडनी में भारत के साथ तीसरे क्रिकेट टैस्‍ट मैच के पहले दिन ऑस्‍ट्रेलिया ने पहली पारी में एक विकेट पर 21 रन बना लिए हैं। इससे पहले ऑस्‍ट्रेलिया ने टॉस जीतकर बल्‍लेबाजी करने का फैसला किया। वर्षा के कारण फिलहाल मैच रुका हुआ है।

भारत की टीम में प्रारम्भिक बल्‍लेबजा के रूप में मयंक अग्रवाल की जगह रोहित शर्मा को शामिल किया गया है। उमेश यादव की जगह नवदीप सैनी को लाया गया है। सैनी पहली बार टैस्‍ट मैच खेल रहे हैं। उमेश यादव चोट लगने के बाद श्रृंखला से बाहर हो गए हैं।

—–
एक नजर आज के मौसम पर-

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया और अधिकतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। मुंबई में बादल छाए रहेंगे। तापमान 22 डिग्री से 31 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है। चेन्नई में हल्की बारिश होने का अनुमान है। तापमान 24 से 30 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। कोलकाता में आसमान साफ रहेगा। न्यूनतम तापमान 17 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया और अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस रहने के आसार हैं। श्रीनगर में दोपहर बाद या रात में बादल छाए रहेंगे। तापमान शून्य से एक डिग्री नीचे और सात डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। जम्‍मू में न्‍यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस रहा जबकि अधिकतम तापमान 21 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। लेह में बादल छाए रहेंगे। न्यूनतम तापमान शून्य से 10 डिग्री नीचे रहा जबकि अधिकतम तापमान शून्य से एक डिग्री नीचे रहने की संभावना है। गिलगित में तापमान शून्य से दो डिग्री सेल्सियस नीचे और 8 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने का अनुमान है। मुज़फ़्फ़राबाद में दोपहर बाद या रात में पूरी तरह बादल छाए रह सकते हैं। तापमान 4 और 15 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है। समाचार कक्ष से अरूण होरा।

—–
समाचार पत्रों से-

उत्‍तर प्रदेश और उत्‍तराखंड में लव जेहाद कानून पर रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार अखबारों की बड़ी खबर है। अमर उजाला की सुर्खी है- कानून पर रोक नहीं, सुनवाई को तैयार।

किसान आंदोलन पर हिन्‍दुस्‍तान की सुर्खी है उच्‍चतम न्‍यायालय में 11 जनवरी को मामले पर होगी सुनवाई।

हिन्‍दुस्‍तान की सुर्खी है- पूरे देश में टीकाकरण का दूसरा पूर्वाभ्‍यास कल से। तीन लाख लोग हिस्‍सा लेंगे। जनसत्‍ता लिखता है-कल तक 41 जगहों पर पहुंचेगी टीके की खुराक। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ. हर्ष वर्द्धन ने लोगों को कोविन नाम के किसी मोबाइल ऐप को डाउनलोड करने और उस पर सूचना साझा करने के खिलाफ सतर्क रहने को कहा। पत्र का कहना है- अमरीका और यूरोप में कोरोना संक्रमण की तबाही से नई मुश्किल, अमरीका में एक दिन में रिकॉर्ड 3 हजार 936 लोगों की मौत। ब्रिटेन में 60 हजार से ज्‍यादा नए मामले।

राजस्‍थान पत्रिका वैक्‍सीन वॉर शीर्षक से लिखता है- 4 हजार 165 अरब रुपए के सालाना बाजार पर कब्‍जे की होड। सीरम की कोविशीड वैक्‍सीन को भारत समेत चार देशों में मिल चुकी है मंजूरी। कोवैक्‍सीन को सिर्फ भारत में अनुमति, गरीब देशों में सबसे अधिक मांग।

नवभारत टाइम्‍स की सुर्खी है- चीनी ऐप ने भारतीयों से ऐंठे हजारों करोड़ रुपए। चुटकियों में लोन बांटने वाले कई चीनी ऐप ने करीब 50 लाख भारतीयों को फंसाया। लोन के बहाने लाखों यूजर्स की निजी जानकारी भी ली गई। दैनिक जागरण लिखता है- अमरीकी राष्‍ट्रपति ट्रंप ने चीन से जुडे़ आठ ऐप से लेन देन पर लगाई रोक। ट्रंप ने भारत की कार्रवाई का दिया हवाला।

हिन्‍दुस्‍तान की खबर है- पृथ्‍वी के घूमने की रफ्तार पिछले वर्ष जून से बढ़ी, अब 24 घंटे से दशमलव पांच मिली सेकंड कम समय में लगा रही है चक्‍कर।

दैनिक भास्‍कर वॉटसएप की नई चाल शीर्षक से लिखता है- आपकी हर जानकारी फेसबुक, इंस्‍टाग्राम से शेयर करेगा, लोकेशन भी ट्रैक करेगा, आठ फरवरी तक शर्तें नहीं मानी तो एकाउंट बंद कर, देगा।