Day 2

दूसरा दिन, ► जिम में व्यायाम

एब्स एक्सरसाइज लगातार एक्सरसाइज ना करते जाएं। एक्सरसाइज के बीच में आराम लें, ताकि आपकी बॉडी में बहुत ज्यादा खिंचाव ना आ जाएं। जिम ट्रेनर की सलाह के मुताबिक ही ए क्सरसाइज करें। एक्सरसाइज सिक्स पैक एब्स के लिए बहुत कारगर है। इसके लिए आप जमीन पर सीधे लेटे और सांस को अंदर की तरफ खींचे। हाथों को सिर के पीछे लगाएं और घुटनों को मोड़े। फिर अपने कंधों को ऊपर उठाएं और अपनी कमर को सीधी रखते हुए सिर से घुटनों को छुने की कोशिश करें। पहली बार में ज्यादा दम ना लगाएं, वरना आपको दर्द होने लगेगा। धीरे-धीरे इसकी आदत डालें। जिम जा रहे है तो ये ना करें 1. शुरुआत में ही भारी वजन न उठाएं। ऐसा करने से आपको नफा कम और नुकसान ज्‍यादा होगा। यह बात भी ध्‍यान रखें कि जहां भारी वजन उठाने से बॉडी का आकार बढ़ता है वहीं हल्‍का वजन मांसपेशियों को सही आकार में ढालने में मदद करता है। 2. यंगस्टर्स बॉडी बनाने की चाहत में स्टेरॉयड्स ले तो रहे हैं, लेकिन इनके नुकसान भी बहुत हैं। हालांकि बॉडी बिल्डिंग के लिए प्रोटीन रिच डाइट लेने की सलाह दी जाती है, लेकिन इसका फायदा वर्कआउट करने पर ही होता है। तभी प्रोटीन डाइट मसल्स में बदलती है, वरना इससे भी फैट डिपॉजिट होने लगता है। इसी के साथ बॉडी बनाने के लिए शॉर्टकट को भी ठीक नहीं माना जाता। 3. बॉडी बनाने को लेकर यंगस्टर्स इतने क्रेजी हैं कि इसके लिए वे सप्लिमेंट्स भी खूब लेते हैं। हालांकि वे इस बात से अनजान हैं कि इस तरह वे कई प्रॉब्लम्स को न्‍योता दे सकते हैं। इन सप्लिमेंट्स के इस्‍तेमाल से बॉडी तो बन जाती है, लेकिन साथ ही कई तरह की प्रॉब्लम्स भी होने लगती हैं। डॉक्टर्स और फिटनेस एक्सपर्ट्स की मानें, तो रेगुलर इन दवाइयों को लेने वाले यंगस्टर्स इन्फर्टीलिटी के भी शिकार हो सकते हैं। यही नहीं, इनके इस्‍तेमाल से किडनी फेलियर, हार्ट और लीवर से जुड़ी तमाम समस्‍याएं भी हो सकती हैं। इसलिए सप्लिमेंट्स का इस्‍तमाल ना करें, बल्कि अपने आहार की मात्रा और क्‍वालिटी को सही रखें

► आज का व्यायाम

नाश्ते से पहले मॉर्निंग वॉक नये शोध के अनुसार जो व्यक्ति सुबह नाश्ते से पहले व्यायाम करते हैं. उनके शरीर से वसा तेजी से कम होती है और इसी प्रकार ऐसे लोगों के खून से चर्बी का स्तर भी तेजी से गिरता है. ब्रिटिश जनरल ऑफ न्यूट्रिशन में प्रकाशित शोध के अनुसार नाश्ते से पहले मॉर्निंग वॉक करने वालों में नाश्ता करने के बाद मॉर्निंग वॉक करने वालों की तुलना में 33 प्रतिशत अधिक वसा कम हुई. आयरलैंड के ग्लास्गो विश्वविद्यालय में हुए इस शोध के अनुसार खाली पेट व्यायाम से न सिर्फ यह कि शरीर से वसा की अधिक मात्रा जल जाती है और वजन भी अधिक कम होता है. बल्कि इसके साथ ही हृदय की धमनियों को बंद करने वाली वसा की मात्रा में भी बहुत कमी आती है. ग्लास्गो विश्वविद्यालय में इस शोध टीम के कैप्टन डाक्टर जेसन गिल कहते हैं, यद्यपि व्यायाम अपने आप में एक अच्छी चीज है किंतु यदि इसे नाश्ते से पहले किया जाए, तो इसका अतिरिक्त लाभ मिलता है क्योंकि ऐसा करने से शरीर अपने भीतर वसा के भंडार से ऊर्जा प्राप्त करने पर विवश होता है. जेसन गिल ने कहा कि यदि कोई व्यक्ति एक घंटे तेज चाल से दस दिन चले, तो उसका वजन एक पाउंड कम हो जाएगा और यह मात्रा उतनी ही है जितनी शरीर का भार तेजी से कम करने के लिए आशा करनी चाहिए.

► योग

त्रिकोणासन त्रिकोण आसन पेट, कमर और कूल्हे की अतिरिक्त चर्बी को घटाने में सहायक है. तेज़ गति से इस आसन का अभ्यास करने से निश्चित रूप से लाभ होता है. भस्त्रिका प्राणायाम भी इसी श्रेणी में आता है. यह शरीर की अतिरिक्त चर्बी को कम करता है और शरीर के दूषित पदार्थों को दूर करता है. सीधे खड़े हो जाएँ. दोनों पैरों में एक मीटर का फ़ासला रखें. साँस भरें. दोनों बाजुओं को कंधे की सीध में लाएँ. कमर से आगे झुके. साँस बाहर निकाले. अब दाएँ हाथ से बाएँ पैर को स्पर्श करें. बाईं हथेली को आकाश की ओर रखें. बाजू सीधी रखें. बाईं हथेली की ओर देखें. इस अवस्था में दो या तीन सेकिंड रूकें. साँस भी रोककर रखें. अब शरीर को सीधा करें. साँस भरते हुए फिर खड़े हो जाएँ. इसी तरह साँस निकालते हुए कमर से आगे झुके. बाएँ हाथ से दाएँ पैर को स्पर्श करें. दाईं हथेली की ओर देखें. दो-तीन सेकिंड रुकने के बाद प्रारंभिक अवस्था में आ जाएँ. यह पूरा एक चरण होगा. पाँच बार इस आसन का अभ्यास करें. कमर दर्द की शिकायत होने पर त्रिकोण आसन का अभ्यास नहीं करें. लाभ: त्रिकोणासन के नियमित अभ्यास से कमर और कूल्हे की चर्बी कम होती है. पेट और छाती के बगल की माँसपेशियों को सम्पूर्ण व्यायाम मिलता है. पैरों की पीछे वाली माँसपेशियों में खिंचाव आता है और उनकी शक्ति बढती है. तेज गति से इसका अभ्यास करने से पूरे शरीर का व्यायाम होता है. सभी अंग खुल जाते हैं और उनमें स्फूर्ति का संचार होता है. आँतों की कार्यगति बढ जाती है. कब्ज़ से छुटकारा मिलता है. पाचन शक्ति बढती है और भूख भी खुलकर लगती है.

► डाइट

खाने से आधे घंटे पहले लें हल्की डाइट डाइट‌िशियन्स मानती हैं कि भोजने से आधे घंटे पहले हल्की डाइट लेना बहुत फायदेमंद है। आप सलाद, पानी या फल भोजन के आधे घंटे पहले लें जिससे आपकी डाइट नियंत्रित भी होगी और एक साथ हेवी डाइट लेने से भी बचेंगे। विटामिन सी से कार्नीटाइन का स्राव होता है। यह एक ऐसा यौगिक है जो फैट को ऊर्जा में बदलने में मदद करता है। इसके अलावा विटामिन सी कोर्टीसोल हार्मोन के स्राव को भी कम करता है जो कि तनाव के स्थिति में उत्पन्न होता है। कोर्टीसोल के स्तर में परिवर्तन पेट के फैट का मुख्य कारण है।

► आयुर्वैदिक टिप्स
आयुर्वेदिक टिप्स शोध से पता चलता है कि एकाइ बेरी का जूस या सूखा पाउडर वजन कम करने में काफी असरदार होता है। यह शरीर में फैट बनने से रोकता है और इसमें कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट गुण भी पाए जाते हैं।

► घरेलू उपचार
घरेलू उपचार वजन कम करने वाले हर्ब में दालचीनी सबसे कारगर है। यह आपके ब्लड सूगर लेवल को स्थित करता है। साथ ही भूख लगना कम करता और फैट को तेजी से मेटाबॉलाइज करता है।

► वजन काम करने वाले भोजन
वजन कम करने वाले भोजन पूरे स्वास्थ्य के फायदे के लिए सिर्फ कसरत करने के बारे में ज्यादा कुछ नहीं कहा जा सकता है। एक अध्ययन ने बताया है की वजन घटाने की असली चाबी अच्छा आहार होता है। एबरडीन यूनिवर्सिटी के शोधक जो की ब्रिटेन में स्थित है बताते हैं की जो मुख्य कारक है जो की वजन को प्रभावित करता है और कुछ बदकिस्मत घटनाओं में इस वजन को मोटापे की तरफ ले जाता है वह असली में हमारा खाना होता है जो हम खाते हैं । जोन स्पीक्मेन जो की मुख्य शोधक हैं उन्होंने ऊर्जा व्यय पर अध्ययन किया है जो की दो दशकों से किये गए हैं ।उन्होंने यह पाया है की आज के लोग उतने क्रियाशील नहीं हैं जितने की आज से २० साल पहले हुआ करते थे। ऊर्जा फलोत्पादक यंत्र और मशीन के आने और इनके अत्याधिक प्रयोग से यह ज़रूरी नहीं है की एक आसीन जीवनशैली का जन्म हुआ है ।उदहारण के रूप में बच्चे जो की आज स्कूल गाडी से जाते है उन्हें मैदान में दौड़ने और खेलने का ज्यादा मस्य मिलता है। साथ ही टीवी देखने से शाम के वक्त किये जाने वाले कार्य जैसे की पडना इत्यादि भी खत्म हो चुके हैं ।इसलिए बच्चे जो की अत्याधिक वजन ग्रहण करते हैं उनमे इसका कारण सिर्फ कसरत ना करना ही नहीं है । यह इस बात पर ज्यादा निर्भर करता है की वे क्या खाते हैं और अगर उनका रोजाना आहार पराक्रम खाने और सामान्य शकरा से बना है तो इसकी वजह से उनमे फालतू वजन बढ़ सकता है । एक समान शोध कुछ ही साल पहले की गयी जिसमे की माइजेरिया और शिकागो की महिलाओ के आहार की तुलना की गयी ।और इसमें यह देखा गया की जिम की सदस्यता और कसरत करने वाली यंत्रो पर अत्याधिक पैसा न कर्च करने के बावजूद भी नाइजीरिया की महिलाए शिकागो की महिलाओं से ज्यादा स्वास्थ्य थी ।हालाँकि वह शिकागो की महिलाओं की अपेक्षा कसरत में ज्यादा सम्मिलित नहीं होती थी पर उनके आहार में रेशे और कार्बोहाइड्रेट की ज्यादा मात्रा होने की वजह से वे उनसे ज्यादा स्वास्थ्य थी। दूसरे हाथ शिकागो की महिलाओं का आहार वसा और प्रक्रम खाने से भरा हुआ था ।पर यह शोध किसी भी तरीके से कसरत की वजह से होने वाले फायदों की निंदा नहीं कर रही है और इससे होने वाले लाभ को नहीं नकार रही है ।कसरत शरीर को चालू रखने और आकार देने में मदद करती है और इससे रोग भी दूर हो जाते हैं ।इसलिए यह शोध सबसे बढ़िया सूचक हैं की वजन घटाने में आहार का भी एक महत्त्पूर्ण किरदार होता है । इन बात को सुनकर कम से कम हम इतना तो कह सकते हैं की हालाँकि कुछ शोध वजन घटाने के लिए स्वास्थ्य आहार का संकेत देते हीं और कुछ इसके उलटा होने का भी , इसलिए हमे भेड की चाल नहीं चलनी चाहिए और जैसा सब कर रहे हैं वैसा हमे करने की जरूरत नहीं है ।अपने स्वास्थ्य को बनाने का सबसे बढ़िया तरीका है की अप अच्छी कसरत करे और स्वास्थ्य आहार खाए ।

► उच्च कैलोरी भोजन
फास्‍ट फूड तली हुई चीजे जैसे- आलू चिप्‍स, कुकीज का कम से कम उपयोग करें। फास्‍ट फूड जैसे- बर्गर, पिज्‍जा की जगह सलाद, फ्रूट जैसी स्‍वस्‍थ चीजों का चुनाव करें।

► आज का टिप्स
आज का टिप्स आज के दौर में हर कोई वजन बढ़ने की समस्या से परेशान है। यह समस्या सभी तरह के रोग का कारण हो सकता है। हालांकि वजन घटाना कोई मुश्किल कार्य नहीं, लेकिन लोग कंट्रोल नहीं करते अपने मन को। व्यक्ति एक अति से दूसरी अति पर जाने लगता है जिससे वजन कम होने के बजाया वह अन्य रोग की गिरफ्त में आ जाता है। वजन घटाने के लिए जरूरी है कि आप, अपना डायट चार्ट बनाएं, क्योंकि परहेज बिना आप वजन घटाने में असमर्थ रहेंगे। वजन खोने के लिए कम कैलोरी वाले पकवान लेना और नियमित रूप से स्थिर आहार लेना जरूरी हैं। आइए जानें कैलोरी कट करने की बारह युक्तियों के बारे में। यदि आप अपनी कैलोरी कम करना चाहते हैं तो आपको चॉकलेट, केक और पेस्ट्री को खाना बंद करना होगा। यदि ऐसी चीजों को खाने का आपका मन है भी तो आपको अपने पर कंट्रोल करना होगा। कैलोरी कट करने का सबसे सही तरीका है आप जो भी कुछ खाएं कम खाएं या फिर खाने के बर्तन छोटे लें। बाहर के जंकफूड के बजाय घर के खाने को अधिक महत्व दें। अगर बाहर का कुछ खाने का मन कर भी रहा है तो उसी चीज को घर पर बनाने की कोशिश करें। अपने आहार की मात्रा सीमित रखें। ज्यादातर पौष्टिक चीजों में एक सी ही सामग्री पाई जाती है। इसीलिए एक बार में सीमित चीजें ही खाएं। बार-बार फ्रीज से निकालकर कुछ भी न खा लें बल्कि अपने खाने-पीने का नियमित समय निश्चित करें। हां कभी-कभी समय में बदलाव किया जा सकता हैं। कम वसा वाले खाद्य पदार्थों के साथ ही अनाज युक्त खाद्य पदार्थों को अपने भोजन में शामिल करें। इससे आप विटामिन, मिनरल और अन्य‍ प्रोटीन तो प्राप्त करेंगे ही साथ ही वजन नियं‍त्रित करने में भी मदद मिलेगी।

► एरोबिक व्यायाम

सीढ़ियों का उपयोग अगर आप सीढियां चढ़ने से कतराते हैं और लिफ्ट का सहारा लेते हैं तो ऐसा करना बिल्कुल छोड़ दें। मोटापा कम करने के लिए जरुरी है शारीरिक मेहनत करना। इसलिए लिफ्ट की बजाए सीढ़ियों का प्रयोग करें।, 2 of, 30

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s